बावली Bawli Hindi Lyrics – DG IMMORTALS, Elvish Yadav

बावली Bawli Hindi Lyrics – DG IMMORTALS, Elvish Yadav

Bawli Hindi Lyrics

तू सोचेगा गाड़ी में घूमाऊंगा
नो चांस
तेरे पे पैसा उड़ाऊंगा
नॉट एनीमोर

तेरे नखरे उठाओगे
नेवर गर्ल
तू लेरी हलके में सोचे
तेरे जाल में आऊंगा

छोरी बावली हो री है के?
कैसे करके मानेगी?
छोरी बावली हो री है के?
कैसे करके मानेगी?

पहले ही बता दी थी
मैंने तेरे ते
बाबू शोना बेबी नहीं
होगा मेरे ते

करेगी प्यार तो लगा दूंगा
पैसों में आग
पैसों में प्यार करेगी तो
करलूंगा कट ऑफ में

छोरी तेरी जैसे बहुत खिलायी है
बहुत घुमायी है
दारू पिला के क्लब में
बहुत नचायी

एक रात वाली रस्म मने
बहुत निभायी
दिखाए चांद तारे
चखायी दूध मलाई

बितायी रात तेरे साथ तो अब
दिन का क्या काम
तने जाना है तो जा
तेरे दिल का क्या काम

मने याद नहीं आवे तू
आई किस श्याम
क्या वक़्त क्या थी जगह
और क्या था तेरा नाम

छोरी बावली हो री है के ?
रें मक्का बावली हो री है के ?

हरियाणे का है छोरा
पुरे देश में तोरा
सिस्टम हैंग करता चले
राव साहब का यो छोरा

छोरा कच्चे काटे खूब
रखे लोडेड बंदूक
खुद छोरे की सिक्योरिटी का ध्यान रखा भोला

जबि किसे ते ना डरे छोरा

छोरी मेरी लट लगी ताने तो
रोज आना पड़ेगा
रोज श्याम जाम गेल ग्राम लाना पड़ेगा
साफ बात छोरी मने नखरे ना पसंद
तने रहना है तो सिस्टम के नीचे रहना पड़ेगा

यो राव साहब तेरे हाथ में ना आवेगा

छोरी बावली हो री है के ?
कैसे करके मनेगी ?
छोरी बावली हो री है के ?
कैसे करके मनेगी

Leave a Comment